February 4, 2023

India 24 News TV

Khabar Har Pal Ki

आजाद नगर मे हूआ विधायक के पद का अपमान आमंत्रण पत्र से नदारत हूआ जोबट विधायक का नाम

कलेक्टर साहब जिले मे पोर्टोकाल का नियम नही जानते आपके अधिकारी आमंत्रण पत्र मे जोबट विधायक को ही भूला शिक्षा विभाग

अलीराजपुर (मनीष अरोडा ) मध्यप्रदेश मे भाजपा की सरकार है ओर भाजपा के शासन मे अधिकारीयो के द्वारा पोर्टोकाल के नियम की धज्जिया किस प्रकार उडाई जा रही है ये देखने को मिला आलीराजपुर जिले की जोबट विधानसभा क्षेत्र के शहीद चन्द्रशेखर आजाद मे जहा शासकीय उत्कृष्ट उ मा विधालय मे वार्षिकोत्सव कार्यक्रम के दौरान जो आमंत्रण पत्र शिक्षा विभाग के द्वारा छपवाये गये उसमे जोबट की वर्तमान भाजपा विधायक सुलोचना रावत या उनके प्रतिनिधि का नाम उस आमंत्रण पत्र से नदारत मिला ।कार्यक्रम मे मूख्य अतिथि जोबट के पूर्व विधायक ओर सासंद प्रतिनिधि माधोसिंह डावर को बनाया गया ओर कार्यक्रम की अध्यक्षता मे जिले के कलेक्टर राघवेन्द्र सिंह का नाम ओर विशेष अतिथि मे नगर परिषद के उपाध्यक्ष नारायण अरोडा का नाम आमंत्रण पत्र मे छपवाया गया । लेकिन जिस विधानसभा क्षेत्र मे जनता ने विधायक को चूना उसी विधानसभा क्षेत्र मे विधायक पद की गरिमा की धज्जिया शिक्षा विभाग के अधिकारीयो ने उडाई जोबट की विधायक सुलोचना रावत के नाम को आमंत्रण पत्र मे जगह नही दी गयी जबकी नियम अनुसार पोर्टोकाल के तहत विधायक का नाम पहले आना था अगर विधायक मौजूद नही है तो उनके प्रतिनिधि उस कार्यक्रम का हिस्सा बनते मगर शिक्षा विभाग ने विधायक के नाम तक को आमंत्रण मे जगह नही दी । जबकी जिले के कलेक्टर साहब उस स्कूल मे कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे है तो क्या कलेक्टर साहब के सज्ञान मे ये आमंत्रण पत्र नही होगा उन्हे भी कार्यक्रम मे आने का निमंत्रण शिक्षा विभाग ने दिया होगा तो क्या कलेक्टर साहब की निगाह इस आमंत्रण पत्र पर नही पडी होगी आखिर जिले का प्रशासनिक अमला भाजपा विधायक का ऐसा अपमान कैसे कर सकता है आपको बता दे की पूर्व की काग्रेस सरकार के दोरान आजाद नगर मे शहीद चन्द्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस के दिन आमंत्रण पत्र छपवाये गये थे उसमे नगर परिषद की अध्यक्ष निर्मला डावर का नाम नही लिखवाया था तब सांसद गुमानसिंह डामोर ओर भाजपा नेताओ ने तत्कालीन कलेक्टर मेडम को खूब खरी खोटी सुनाई थी लेकिन आज जब भाजपा की ही मोजूदा विधायक सुलोचना रावत के नाम को आमंत्रण पत्र पर जगह नही मिली अब भाजपा नेता चूप क्यो है ये सोचने वाली बात है वही आजाद नगर के जनपद अध्यक्ष इंदर सिंह डावर के नाम को भी आमंत्रण पत्र मे जगह नही दी गयी उनका नाम भी पेन से लिख दिया गया जबकी पोर्टोकाल के तहत नगर परिषद अध्यक्ष के बाद जनपद पंचायत अध्यक्ष का नाम आमंत्रण पत्र मे छपवाना था लेकिन ऐसा नही हूआ अब देखना होगा की जिले के कलेक्टर राघवेन्द्र सिंह आजाद नगर मे शिक्षा विभाग के द्वारा जोबट विधायक का जो अपमान किया उसमे क्या कार्यवाही करते है ।